Home / Hacking / Tor Browser

Tor Browser

Tor Browser

Tor Browser :- जिसको हम the onion router कहते है onion कैसा होता है एक परत के उंदर दूसरा परत दुसरे के अन्दर तीसरा इसी तरह परत दर परत मिलता रहता है computer फील्ड में समझे तो मतलब इसका ये हुआ की इसका कोई perfect लोकेशन नहीं find हो पाता है लोकेशन का यहाँ मतलब हुआ जब हम कोई भी डिवाइस जो इन्टरनेट के माध्यम से कनेक्ट हो सकता है तब उसको कोई न कोई वर्चुअल ip address प्रदान किया जाता है मतलब किसी भी डिवाइस को जब हम इन्टरनेट से कनेक्ट करेगे तो उसको एक अपना एक पहचान मिलता है जैसे हर व्यक्ति का एक perticular address होता है

उसी प्रकार हर डिवाइस को एक address मिलता है जैसे कोई व्यक्ति अगर किसी जगह भी जाता है तो उसका आधार कार्ड नंबर या उसका पासपोर्ट के जरिये उसका पहचान निकाल सकते है यह उसका यूनिक id है जिसके जरिये वो किस जगह का है ये पता किया जा सकता है (Click here to download Tor Browser)

Read:- TDS

TOR browser

Tor Browser

उसी प्रकार जब मोबाइल या लैपटॉप इन्टरनेट में जब भी इन्टरनेट कनेक्ट होता है तो उस डिवाइस को एक address मिलता है जिसको ip address मतलब इन्टरनेट प्रोटोकॉल address और जब भी आप किसी browser पर कुछ भी सर्च करते है तो आप अपने डिवाइस में क्या सर्च कर रहे है ये उस इन्टरनेट प्रोवाइडर को पता चलता है मतलब आपके प्राइवेसी पर खतरा है मतलब आप क्या कर रहे है इन्टरनेट पर वो सब इन्टरनेट प्रोवाइडर देख सकता है है या कोई हैकर जो उस कनेक्शन को कण्ट्रोल कर रहा हो

वो आसानी से किसी के ip address की मदद से आपके जरिये सर्च किये हुए चीज को देख सकता है but आप सोचोगे इससे उसको क्या फायदा होगा और आप ये भी सोच रहे होगे की ये पॉसिबल नहीं है but it is truth privacy is myth अब आपको ये बताता हु इससे किसी को क्या फायदा होगा आपने कभी ये सोचा है जब भी कोई प्रोडक्ट आप अपने मोबाइल में सर्च करते है तो उसके बाद आप किसी भी website को ओपन करते है तो आपको उसी से रिलेटेड ऐड शो होता है आप ने कभी सोचा है ऐसा क्यों होता है

browser कैसे income करती है browser आपके द्वारा सर्च किये गए प्रोडक्ट या सर्विस की जानकारी sale करती है ये उसके income का एक छोटा सा तरीका है वैसे अलग अलग माध्यम से income करती है आप जब भी मोबाइल या लैपटॉप में app इनस्टॉल करते है  या सॉफ्टवेर तो आप बिना कुछ देखे ही सारा चीज पर agree कर के आगे बढ़ जाते है आप कभी गोर करना आपके कांटेक्ट आपके डाटा को वो एक्सेस कर सकता है आपने खुद ही उसको ये राईट दिया है agree पर क्लिक कर के otherwise आप उस app को use नहीं कर सकते

कोई भी इतनी app आप फ्री में इनस्टॉल करते है तो उस व्यक्ति या कंपनी को फायदा कैसे होगा वो आपको फ्री में सर्विस दे रही है तो वो आपके डाटा को sale कर के income करती है और भी तरीके है अगर आप tor browser use करते है तो आप इन्टरनेट पर कुछ भी सर्च कीजियेगा तो आपके द्वारा सर्च किया हुआ कुछ भी इनफार्मेशन कोई भी नहीं देख पायेगा क्यों की टोर ब्राउज़र में जब भी आप कोई वेबसाइट ओपन करते है तो सबसे पहले आपका Request टोर ब्राउज़र के सर्वर में जाता है अब टोर ब्राउज़र से बहोत सारे कंप्यूटर सर्वर जुड़े होते है

जैसे ही आप टोर ब्राउज़र में वेबसाइट ओपन करते है तो ऐसे में आपका रिक्वेस्ट किसी भी टोर ब्राउज़र के सर्वर में चला जाता है और वो सर्वर का आईपी एड्रेस से आपने जो वेबसाइट के रिक्वेस्ट किया है वो ओपन होता है  तो ऐसे में आपका एक वर्चुअल आईपी एड्रेस बदलता रहता है तो ऐसे में आपका आईपी एड्रेस एकदम सुरक्षित रहता है और किसी को भी पता नहीं चलता की आप इन्टरनेट में क्या सर्च कर रहे है आप अगर ये चाहते है की आपके द्वारा सर्च किया गया कोई भी चीज कोई नहीं देख पाए तो आप tor browser का use कर सकते है

इसको कैसे इनस्टॉल करते है और कैसे use करते है इसका पूरा डिटेल next content में आपको practical के साथ पोस्ट कर दुँगा

I hope that you understand my post. if you like this post then share my post, and comment on my post if you have any suggestion or Queries related to Tor Browser. Thank you!

Check Also

Using Tor for Hacking

how to use tor for hacking

how to use tor for hacking how to use tor for hacking:- Hacking is done …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *